November 30, 2021

CBSE की फुल फॉर्म क्या है? What is the full form of CBSE?

क्या आप भी जानना चाहते हैं, कि CBSE की फुल फॉर्म क्या है? यदि हां तो आज हम यहां आर्टिकल में इसी के बारे में जाने वाले हैं. CBSE असल में एक शिक्षा संस्थानों यानि स्कूल, कॉलेज आदि को अधिक प्रभावशाली ढंग से लाभ पहुंचाना है. 

CBSE की फुल फॉर्म Central Board of Secondary Education

 

इसे हिंदी में “केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड” कहा जाता है CBSE मुख्य भाषा हिंदी तथा इंग्लिश है. CBSE यानी कि , Central Board of Secondary Education वहीं स्कूलों के साथ Affected करती है जो , Central Board के नियमों को पालन करते हो. 

CBSE Board का मुख्य उद्देश्य क्या है? 

CBSE Board मुख्य उद्देश्य है कि , शिक्षा क्षेत्रों में स्कूल, कॉलेज ‌ को ढंग से सभी व्यवस्था का लाभ हो सके. और विद्यार्थी को शिक्षा में अच्छी शिक्षा प्राप्त हो सके. 

CBSE Board की स्थापना कब हुई?

CBSE Board की स्थापना 3 नवंबर सन 1962 की गई थी. CBSE Board की स्थापना Central Board के द्वारा की गई थी. Central Board जब से शिक्षा नीति में आया है काफी ज्यादा शिक्षा क्षेत्र में विकास हुआ है. Central Board of Secondary Education ( CBSE Board )  का मुख्य कार्यालय यानी कि , headquarter दिल्ली में स्थित है. अभी के समय में CBSE Board मुख chairman श्री विनीत जोश जी है.  

CBSE का इतिहास क्या है ? 

भारत में सबसे पहले शापित होने वाला शिक्षण बोर्ड की शुरुआत 1921 में उत्तर प्रदेश से हुआ जिसे हम आज UP Board से जानते हैं. जो Rajasthan, Central India और Gwalior के क्षेत्राधिकार में था. भारत सरकार ने सन सन 1929 में “Board of High School and Intermediate Education, Rajputana” स्थापना की , इसमें अजमेर, मेरवाड़ा, मध्य भारत और ग्वालियर शामिल हैं बाद में यह अजमेर, भोपाल और विंध्य प्रदेश में भी लाया गया था सन् 1952 में, इसे “Central Board Of Secondary Education” (CBSE full form) नाम दिया गया ।

आपने क्या सीखा ? 

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख CBSE की फुल फॉर्म क्या है? जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को CBSE की फुल फॉर्म क्या है? विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है.

इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे. यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं. 

Om sonawane

Hey, I’m Om. I’m a foundar of notechandfun living in India. I am a fan of technology, travel, and movies. I’m also interested in food and cycling. You can read my articles with notechandfun

View all posts by Om sonawane →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *